Search

आज का विज्ञान हमें शारीरिक रूप से अपाहिज कर रहा है, आज़ाद


फ़िल्म राष्ट्रपुत्र और अहं ब्रह्मस्मि की अपार सफलता से पूरे देश में धूम मचाने वाले नायक आज़ाद ने कहा कि आज का विज्ञान भले ही भौतिकवाद के क्षेत्र में आंदोलन का रूप लेकर आगे जा चुका पर शारीरिक क्षमता और मानवीय जीवन पहले के मुक़ाबले कई गुना कम हुई है.पहले मुख्य बीमारी हैज़ा व टीबी हुआ करती थी और आज इंसान सैकड़ों बीमारियाँ का घर बन चुका है. इसका मुख्य कारण है हमारी तनाव पूर्ण जीवन शैली और भौतिकवाद. हमें अपने बुनियादी संस्कार और सनातन जड़ों से दूर नहीं होना चाहिए।जिसमें सबसे ज़रूरी है प्रकृति का साथ।

देखिए आज के विज्ञान में शारीरिक रूप से कहाँ खड़े है!


पहले:-वो कुँए का मैला पानी

पीकर भी 100 वर्ष जी लेते थे!

अब :-RO का शुद्ध पानी

पीकर 40वर्ष में बुढ़े हो रहे हैं!