धर्मवीर डॉ मूँजे का भव्य जन्मोत्सव मनाएँगे, रामदण्डी मेगास्टार आज़ाद

आगामी १२ दिसम्बर को महान स्वतंत्रता सेनानी, हिंदू महासभा के पूर्व अध्यक्ष, राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ की स्थापना में महत्वपूर्ण सहभागी, संघ के संस्थापक डॉ केशव बलिराम हेडगेवार के राजनीतिक गुरु एवं भारत में सैनिक शिक्षा के पुरोधा डॉ बालकृष्ण शिवराम मुंजे का १४७ वाँ जन्म दिवस है। डॉक्टर मूँजे के जन्मदिवस को भव्यता और दिव्यता के साथ मना ने के लिए प्रतिबद्ध एवं कटिबद्ध हैं संस्कृत पुनरूत्थान के महानायक रामदण्डी सनातनी फ़िल्मकार मेगास्टार आज़ादआज़ाद ने कहा कि डॉक्टर मूँजे के साथ उनका अस्तित्वगत सम्बन्ध है।


डॉक्टर मूँजे ने जिस भोंसला सैन्य विद्यालय की बुनियाद रखी थी उसी भोंसला सैन्य विद्यालय में दीक्षित , शिक्षित और सनातनी विचारों से ओतप्रोत होकर मेगास्टार आज़ाद ने राष्ट्रपुत्र जैसे राष्ट्रवादी फ़िल्म से अपनी कला-यात्रा की शुरुआत की। डॉक्टर मूँजे, कमांडेट मेजर प्रभाकर बलवंत कुलकर्णी एवं भोंसला सैन्य विद्यालय ने रामदण्डी आज़ाद ( Ramdandee Aazaad ) के बालमन में राष्ट्रवाद के जिस यज्ञ अग्नि का संस्कार किया था उसे अपनी कला साधना के द्वारा मेगास्टार आज़ाद ( Megastar Aazaad ) ने प्रखर राष्ट्रवाद की ज्वाला में तब्दील कर दिया।


आज़ाद ( Aazaad ) ने अपनी कालजयी कृति राष्ट्रपुत्र ( Rashtraputra ) के ज़रिए फ्रांस में आयोजित विश्वविख्यात ७२ वें कान फ़िल्म फ़ेस्टिवल में भारत के राष्ट्रपुत्रों के सनातनी अस्तित्व से विश्व दर्शकों को परिचित कराया। इसके बाद अपनी दूसरी अनमोल कृति विश्व इतिहास मे मुख्यधारा की पहली संस्कृत फ़िल्म अहम ब्रह्मास्मि के माध्यम से भारत की गौरवगाथा और पुरुषार्थ का अखिल विश्व में गौरव बढ़ाया |

फिल्म राष्ट्रपुत्र ( Rashtraputra ) और अहम् ब्रह्मास्मि (Aham Brahmasmi ) की अपार सफलता के बाद मेगास्टार आज़ाद ने अपनी रचनात्मकता और प्रतिभा का विस्तार करते हुए एक भारत-श्रेष्ठ भारत के अपने अभियान के अंतर्गत उत्तर भारत और दक्षिण भारत को एकसूत्र में जोड़ने के लिए तमिल भाषा में महानायकन ( Mahanayakan, மகா நாயகன் )का सृजन किया। अलग अलग फ़िल्में,अलग-अलग कथानक के साथ मेगास्टार आज़ाद (Megastar Aazaad ) ने डॉक्टर मूँजे की प्रखर सनातनी शिक्षा का वैश्विक प्रचार-प्रसार का युग्धर्म निभा रहे हैं।आज़ाद ने कहा कि भोंसला सैन्य विद्यालय के अपने आदि-पुरुष के लिए श्रद्धा सुमन के रूप में १२ दिसम्बर को डॉक्टर मूँजे के भव्य जन्म महोत्सव के मंच से अपनी आगामी फ़िल्म की घोषणा करेंगे।

यह फ़िल्म सनातनी परिवार की ओर से हिंदूकुल महासूर्य डॉक्टर बालकृष्ण शिवराम मूँजे के लिए अर्घ्यदान होगा।

मेगास्टार आज़ाद ( Megastar Aazaad ) की सारी फ़िल्मों की सनातनी महिला निर्मात्री कामिनी दुबे ने कहा कि डॉक्टर मूँजे के विचारों को मेगास्टार आज़ाद के रूप में साकार देखकर गौरव का अनुभव हो रहा है। डॉक्टर मूँजे ने अपने जिन विचारों को भोंसला सैन्य विद्यालय की मिट्टी में बोया था, वे आज रामदण्डी मेगास्टार आज़ाद के रूप में विशाल वरदवृक्ष में रूपांतरित हो गए हैं। आगामी १२ दिसम्बर को डॉक्टर मूँजे जन्म महोत्सव का आयोजन विश्व साहित्य परिषद, बॉम्बे टॉकीज़ फ़ाउंडेशन, और आज़ाद फेडरेशन ने किया है।




Follow us 

© thebombaytalkiesstudios.com