Search

उत्तर प्रदेश की बहुचर्चित क्रिकेट प्रतियोगिता संस्कृत महानायक महर्षि आज़ाद के जन्मदिन 3 मार्च से।

सुरियावां क्षेत्र के मेगास्टार महर्षि आजाद स्टेडियम, मेढ़ी में तीन मार्च से महर्षि आज़ाद क्रिकेट चैम्पियनशिप शुरू होगा। ज्ञात हो कि तेजधर ब्रम्हबाबा की स्मृति में सन 1982 से यह प्रतियोगिता अनवरत चल रही है। जनवरी माह में होने वाली इस ऐतिहासिक प्रतियोगिता को इस बार कोविड 19 की वजह से स्थगित करना पड़ा था।

आज़ाद फ़ेडरेशन और आज़ाद स्पोर्ट्स क्लब की अध्यक्षा संस्कृत भूषण, संस्कृत रत्न और संस्कृत भारती से सम्मानित कामिनी दूबे ने कहा कि ये चैम्पियनशिप प्रतिभावान खिलाड़ीयों के लिए बेहतरीन मौक़ा है जो ग्रामीण खिलाड़ीयों को अखिल भारतिय स्तर पर स्थापित करेगा। कामिनी दूबे ने कहा कि मेगास्टार महर्षि आज़ाद स्टेडियम पर आयोजित इस प्रतियोगिता में हर वर्ष लाखों दर्शकों की उपस्थिति होती है। जो खिलाड़ीयों का हौसला बढ़ाने आते है। ज्ञात हो कि कामिनी दूबे महान क्रांतिकारी चंद्रशेखर आज़ाद पर बनी फ़िल्म राष्ट्रपुत्रसंस्कृत के विश्व व्यापी प्रचार प्रसार व उत्थान के लिए बनाई विश्व की मुख्यधारा की प्रथम फ़िल्म अहं ब्रह्मस्मि की निर्माता भी हैं।

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा अनलॉक समाप्त होने के बाद आज़ाद फ़ेडरेशन और आज़ाद स्पोर्ट्स क्लब के खेल समिति के पदाधिकारियों की बैठक की गयी जहां अगले माह तीन मार्च को महर्षि आज़ाद क्रिकेट चैम्पीयनशिप कराने का फैसला किया गया जो महर्षि आज़ाद का जन्मदिन भी है।

उत्तर प्रदेश कंट्रोल बोर्ड से हरी झंडी मिलने के बाद समिति के पदाधिकारियों ने सनातन भारत के ब्रह्म वाक्य अहं ब्रह्मस्मि का उद्घोष पूरे विश्व में कर भारत का नाम रौशन करने वाले सैन्य विद्यालय के छात्र, संस्कृत के अंतरराष्ट्रीय ब्रांड एम्बेसडर, संस्कृत महानायक मेगास्टार महर्षि आज़ाद जी के जन्मदिन पर इस बार तीन मार्च से प्रतियोगिता का आयोजन कराने का फैसला किया है ।

खेल समिति के अध्यक्ष व उत्तर प्रदेश प्रधान संघ के उपाध्यक्ष संजय श्रीवास्तव ने बताया कि प्रदेश के प्रमुख जनपदों की टीमों के अलावा कुछ अन्य प्रदेशों की टीमें भी हिस्सा लेंगी। संजय श्रीवास्तव ने कहा कि हर साल यह प्रतियोगिता 3 मार्च को ही प्रारम्भ होगी। सचिव अमर सिंह ने बताया कि इस बार दर्शक घर बैठ कर मैच का सीधा प्रसारण यूट्यूब व कई चैनलों पर लाइव भी देख सकतें हैं।